Friday , June 21 2024

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर समेत प्रदेश में नौ नए एंटी करप्शन थानों का करेंगे ऑनलाइन उद्घाटन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को गोरखपुर समेत प्रदेश में नौ नए एंटी करप्शन थानों का ऑनलाइन उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही प्रदेश में एंटी करप्शन थानों की संख्या 18 हो जाएगी। फिलहाल गोरखपुर में केवल एंटी करप्शन यूनिट काम कर रही है। वर्तमान में प्रदेश में लखनऊ समेत नौ एंटी करप्शन थाने हैं। 10 दिसम्बर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों गोरखपुर और बस्ती समेत नौ नए थानों का उद्घाटन प्रस्तावित है। इसके बाद सभी 18 रेंज मुख्यालयों पर एंटी करप्शन थाने अस्तित्व में आ जाएंगे।

फिलहाल गोरखपुर की एंटी करप्शन इकाई में इंस्पेक्टर समेत 8 लोग हैं। इनके जिम्मे गोरखपुर, महराजगंज, कुशीनगर, देवरिया, संतकबीरनगर, बस्ती, सिद्धार्थनगर, आजमगढ़, मऊ जिले का कार्यक्षेत्र था। अभी तक यह टीम भ्रष्टाचार में पकड़े गये आरोपी का वहीं दाखिल करती थी, जहां से उन्हें पकड़ती थी। लेकिन अब थाना बनने के बाद टीम खुद अपने थाने में ही केस दर्ज कर कार्रवई कर सकेगी। हालांकि थाना बनने के बाद गोरखपुर मंडल के ही चार जिले इसके कार्यक्षेत्र में रह जाएंगे। 11 महीने में 11 कर्मियों को भिजवाया जेल एंटी करप्शन की गोरखपुर इकाई ने जनवरी 2022 से अब तक कुल 11 ट्रैप किया है। जिसमे घूस लेने के दौरान कई सरकारी कर्मचारी रंगे हाथ गिरफ्तार हुए जो जेल में हैं। एंटी करप्शन यूनिट के प्रभारी सन्तोष कुमार दीक्षित ने बताया की उनकी टीम वर्तमान में 9 जिलों में काम करती थी। लेकिन थाना बनने के बाद चार जिलों में गोरखपुर टीम की कार्रवाई होगी। 

एंटी करप्शन ने इन्हें पकड़ा -18 जनवरी 2022 को संतकबीर नगर के सहायक लेखाकार अवधेश मिश्रा को 20 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 27 अप्रैल को एआरओ कार्यालय से वरिष्ठ सहायक लेखाकार सुशील मौर्या को 10 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 17 जून को हरैया बस्ती के लेखपाल घनश्याम चौधरी को दस हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 19 जून को महाराजगंज के लेखपाल सुभाष पटेल को 5 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 28 जुलाई को आजमगढ़ के लेखपाल अशोक कुमार उपाध्याय को 5 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 23 अगस्त को बस्ती के बिजली विभाग के जेई राघवेन्द्र प्रताप सिंह को 50 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 30 अगस्त को देवरिया बरहज तहसील के लेखपाल अशोक कुमार पाण्डेय को 5 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 23 सितंबर को देवरिया बिजली विभाग के बड़े बाबू उग्रसेन सिंह को 5 हजार के साथ ट्रैप किया। –  23 नवंबर को बस्ती बिजली विभाग के जेई राजेश प्रजापति और प्राइवेट पर्सन राहुल कुमार को 10 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 30 नवंबर को मऊ विकास भवन के ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह को 20 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया। – 6 दिसंबर को मधुबन, शिव मंदिर के संग्रह अमीन राजेश लाल को 15 हजार रुपए के साथ ट्रैप किया।  

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com