Sunday , July 21 2024

अफगानिस्तान के विरुद्ध आज होगा सुपर-8 मुकाबला

खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही भारतीय टीम गुरुवार को जब अपने पहले सुपर-8 मुकाबले में ब्रिजटाउन के केंसिंग्टन स्टेडियम में उतरेगी तो उसका सामना उस अफगानिस्तान टीम से होगा, जो बड़े उलटफेर करने में पारंगत होती जा रही है। पिछले वर्ष हुए वनडे विश्व कप में अफगानिस्तान ने इंग्लैंड, पाकिस्तान और श्रीलंका जैसी टीमों को धूल चटाई थी तो इस विश्व कप में वह न्यूजीलैंड को हराकर उसे विश्व कप से बाहर का रास्ता दिखा चुकी है।

ऐसे में भारतीय टीम अफानिस्तान को हल्के में रहने की भूल नहीं करेगी। लेकिन सबसे बड़ा प्रश्न है कि इस मुकाबले में टीम संयोजन क्या होगा। न्यूयार्क में जहां ड्राप इन पिचों पर भारतीय टीम ने एक अतिरिक्त आलराउंडर को खिलाया था, लेकिन वेस्टइंडीज में अब धीमी पिचें होंगी।

क्या कुलदीप को मिलेगा मौका

सुपर-8 चरण को लेकर भारतीय टीम संयोजन को लेकर काफी चर्चा हो रही है। टूर्नामेंट की शुरुआत में कप्तान रोहित शर्मा ने चार आलराउंडर हार्दिक पांड्या, शिवम दुबे, अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा को अंतिम एकादश में रखने पर जोर दिया था। न्यूयार्क में गेंदबाजों की मददगार पिच पर यह रणनीति भारत के लिए कारगर भी रही थी। इससे आठवें नंबर तक बल्लेबाजी को गहराई मिलती है और कप्तान इस संयोजन में छेड़छाड़ नहीं करना चाहेंगे।

कुलदीप को टीम में लाने के लिए मोहम्मद सिराज या अर्शदीप सिंह को बाहर रखना होगा। ऐसा होने पर सिराज को बाहर रहना पड़ सकता है। भारतीय टीम के दो अभ्यास सत्रों को देखें तो पिच से स्पिनरों को मदद मिलने के कारण कुलदीप का दावा पुख्ता होता है। केंसिंग्टन ओवल के आसपास ठंडी हवाओं से पावरप्ले में तेज गेंदबाजों को स्विंग मिलना चाहिए।

लय पाने के बेताब कोहली

भारतीय प्रशंसकों की नजरें कोहली पर लगी होंगी जो अभी तक इस टूर्नामेंट में दोहरे अंक तक नहीं पहुंचे हैं। न्यूयार्क में वह अपनी चिर परिचित शैली से कामयाब नहीं रहे लेकिन वेस्टइंडीज में उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। मध्य और डेथ ओवरों में छक्के लगाने के लिए टीम में शामिल किए गए दुबे अभी तक अपनी रंगत में एक ही बार दिखे हैं। अमेरिका की पिचों पर वह खुलकर नहीं खेल सके लेकिन अब वह बड़े शॉट खेलना चाहेंगे।

उपयोगी साबि‍त हो सकते जडेजा

भारत के स्टार टी20 बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव ने अमेरिका के खिलाफ अपने अंदाज के विपरीत खेलकर रन बनाए। वहीं गेंदबाजी में कमाल कर रहे हार्दिक पंड्या भी रन नहीं बना सके हैं । गेंदबाजी में अर्शदीप के प्रदर्शन में मैच दर मैच निखार आया है और वह जसप्रीत बुमराह का बखूबी साथ दे रहे हैं। स्पिनरों की मददगार पिच पर अक्षर और जडेजा भी उपयोगी साबित होंगे।

फारूकी ले चुके हैं 12 विकेट

दूसरी ओर अफगानिस्तान टीम ग्रुप चरण के आखिरी मैच में वेस्टइंडीज से हारकर यहां पहुंची है। पहले तीन मैचों में निर्णायक साबित हुए उसके गेंदबाजों को वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने उन्नीस साबित कर दिया। कप्तान राशिद खान की उम्मीदें बायें हाथ के तेज गेंदबाज फजलहक फारूकी पर टिकी होंगी जो अब तक टूर्नामेंट में सर्वाधिक 12 विकेट ले चुके हैं । बल्लेबाजों में फार्म में चल रहे रहमानुल्लाह गुरबाह और इब्राहिम जादरान से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com