Thursday , April 18 2024

उत्तर प्रदेश में कारोबारी गतिविधियां हुई तेज़, पढ़े पूरी ख़बर

उत्तर प्रदेश में लोगों की खरीदारी क्षमता बहुत तेजी से बढ़ रही है। जिससे बाजारों में रौनक बढ़ने के साथ ही कारोबारी गतिविधियां तेज हो गई हैं। इसका प्रमाण वित्तीय वर्ष 2021-22 में राज्य में प्रति व्यक्ति कर के आंकड़े हैं। इसके मुताबिक इस वर्ष राज्य सरकार को मिले कुल करों में राज्य के प्रत्येक व्यक्ति की हिस्सेदारी 16591 रही। पूर्व के वर्ष 2020-21 में जब कोरोना से राज्य की अर्थव्यवस्था डंवाडोल हुई थी, उस समय प्रति व्यक्ति पर कर का भार महज 11738 ही था यानी बीते वर्ष यूपी के लोगों ने 4853 रुपये ज्यादा कर अदा किया।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा तैयार आंकड़े सरकार का हौसला बढ़ाने वाले हैं। राज्यवार जारी इन आंकड़ों में किसी अन्य राज्य में कोरोना वर्ष 2021-21 और उसके बाद के वर्ष 2021-22 के कर राजस्व में इतना बड़ा अंतर नहीं है। करों की वसूली में बेहतर होती स्थिति के बाद भी पिछले तीन वित्तीय वर्षों में कोई भी ऐसा वर्ष नहीं रहा जब यूपी में प्रति व्यक्ति कर भार राष्ट्रीय औसत के बराबर रहा हो। 

2019-20 के सामान्य वर्ष से भी अधिक कर वसूली 2021-22 में
कोरोना से पूर्व के वर्ष 2019-20 में राज्य सरकार को राजस्व के रूप में कुल 3,22,349 करोड़ रुपये मिले थे। इस वर्ष प्रति व्यक्ति कर भार 16,150 रुपये था। वहीं कोरोना बाद के वर्ष 2021-22 में राज्य सरकार को करों के रूप में 3,31,162 करोड़ रुपये मिलने का अनुमान किया गया। इसमें प्रति व्यक्ति कर भार 16,591 रुपये आ रहा है। यह धनराशि कोरोना से पूर्व के सामान्य वर्ष से 441 रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से अधिक है। वहीं कोरोना वर्ष 2020-21 में राज्य सरकार को कुल 2,34,297 करोड़ रुपये मिले थे, जिसमें प्रति व्यक्ति कर भार 11,738 रुपये था। 
 
तीन साल में उत्तर प्रदेश सरकार को मिले कर और प्रति व्यक्ति कर भार के आंकड़े

2019-20
कुल कर राजस्व-3,22,349 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 16,150 रुपये
2020-21
कुल कर राजस्व-2,34,297 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 11,738 रुपये
2021-22
कुल कर राजस्व-3,31,162 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 16,591 रुपये

समस्त राज्यों का कर राजस्व 2021-22
कुल कर राजस्व-25,71,234 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 21,276 रुपये
 
पड़ोसी राज्यों के कर राजस्व व प्रति व्यक्ति कर भार 2021-22 (अनुमानित)
बिहार 
कुल कर राजस्व-1,31,736 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 12,691 रुपये

उत्तराखंड
कुल कर राजस्व-23,489 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 23,256 रुपये

दिल्ली
कुल कर राजस्व-44,000 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 26,190 रुपये

हरियाणा
कुल कर राजस्व-71,013 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 27,958 रुपये

झारखंड
कुल कर राजस्व-58,816 करोड़ रुपये
प्रति व्यक्ति कर भार- 17,823 रुपये

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com