Saturday , February 4 2023

इंदौर में जारी है भारी बारिश का दौर, कई इलाकों में भरा पानी, स्कूलों की छुट्टी, युवक पानी में बहा

 इंदौर में मंगलवार शाम से देर रात तक भारी हुई वर्षा हुई। इससे शहर की सड़कें नदियां बन गईं। सड़क पर इतना पानी भरा था कि कई कारें बह गईं। सड़कों पर पानी होने के कारण वाहनों के पहिए थम गए और लोग घंटों तक वाहनों में ही फंसे रहे। कई इलाकों में बिजली गुल रही। मंगलवार शाम से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला बुधवार सुबह भी जारी रहा। इंदौर में रातभर में चार इंच पानी बरस गया। मंगलवार रात 12 बजे यशवंत सागर के तीन गेट खोले गए। उधर इंदौर में अति वर्षा को देखते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने बुधवार को पहली से 12वीं तक के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित है। कलेक्टर ने स्कूल संचालकों को निर्देश दिए हैं कि जो बच्चे सुबह स्कूल चले गए हैं, उन्हें सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाया जाए।

वहीं बहते पानी में लोगों को बचाने गया युवक डूब गया। रेस्क्यू दल, प्रशासनिक अधिकारी और पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद हैं। पानी में बहे युवक को ढूंढने के प्रयास जारी हैं। गीता नगर के पास खेड़ापति हनुमान मंदिर के नाले में डूबा है युवक। युवक का नाम सफर बताया जा रहा है। चंदन नगर थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

इंदौर शहर में मंगलवार शाम से शुरु हुआ वर्षा का सिलसिला बुधवार सुबह भी जारी रहा। एयरपोर्ट स्थित मौसम केंद्र पर मंगलवार रात से बुधवार सुबह 8:30 बजे तक 108.9 मिलीमीटर यानी 4.2 इंच वर्षा दर्ज की गई। एयरपोर्ट के मौसम केंद्र पर इस मानसून सीजन में अब तक 779.7 मिलीमीटर (30.6 इंच) वर्षा दर्ज की गई है। वहीं रीगल क्षेत्र में मंगलवार शाम 6 बजे से बुधवार सुबह 6 बजे तक करीब साढ़े 4 इंच वर्षा दर्ज की गई। इंदौर में पिछले 24 घंटे में इस सीजन में सबसे अधिक वर्षा दर्ज हुई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बुधवार को भी दिनभर शहर में वर्षा का दौर जारी रहने की संभावना है।

यह है कारण – मौसम विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह के मुताबिक वर्तमान में ओड़िशा पास अति निम्न दाब का क्षेत्र बना हुआ है, जो भुवनेश्वर से 25 किलोमीटर पश्चिमोत्तर में सक्रिय है। इसके अलावा लोकल सिस्टम बनने के कारण इंदौर सहित आसपास के इलाकों में तेज वर्षा देखने को मिल रही है। मंगलवार रात को तेज वर्षा के दौरान दृश्यता भी काफी कम हुई, इस वजह से वाहन चालकों को परेशानी हुई। लगातार हो रही वर्षा के कारण शहर की प्रमुख सड़कों चौराहों और आवासीय क्षेत्रों में जलजमाव की स्थिति बन रही है।

आज भी होगी भारी वर्षा – मौसम विभाग द्वारा बुधवार को इंदौर, सीहोर, उज्जैन, जबलपुर, नर्मदापुरम संभाग में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। गौरतलब है कि मंगलवार सुबह से ही इंदौर में गर्मी और तेज उमस का दौर जारी रहा जिसके कारण सुबह से लोग परेशान हुए लेकिन शाम होते ही वर्षा शुरू होते ही गर्मी और उमस राहत मिली। दूसरी ओर लगातार हुई वर्षा ने आम लोगों की परेशानी को भी बढ़ाया।

 

उज्जैन में लगातार जारी बारिश के बाद गंभीर बांध लबालब, तीन गेट खोले गए।

कई इलाकों में जलजमाव – इंदौर में मंगलवार शाम से लगातार बारिश हो रही है। इस वजह से शहर की कलोनियों में जलजमाव हो गया। इंदौर में लगातार हो रही वर्षा ने शहरवासियों की मुश्किलें भी बढ़ाई हैं। सिकंदराबाद पुल पर नाले का पानी ऊपर से जाने लगा है। इस कारण निचली बस्ती क्षेत्र के घरों में पानी भरा और लोगों की आवाजाही का मार्ग भी बंद हो गया। वहीं सुदामा नगर के सेक्टर डी निरंजनपुर बस्ती क्षेत्र में सड़कों पर पानी भरा।

कई जगह पेड़ भी गिरे – सबनीस बाग मैदान के पास एक पेड़ भी गिरा। बारिश के पानी के साथ बहकर आई पेड़ों की डालियां और पत्तियों के कारण नगर निगम मुख्यालय के पास स्थित पुल पर पानी निकासी का मार्ग अवरुद्ध हुआ। ऐसे में निगम कर्मियों ने झाड़ियां हटाकर सफाई की। चंद्रभागा पुल के पास भी जलजमाव की समस्या आई क्षेत्र में पेड़ गिरने की शिकायत भी नियम कंट्रोल रूम पर पहुंची। इसके अलावा तलावली चांदा स्थित रुचि सोया और सांची के प्लांट के पास परिसर में जल जमाव हुआ। देवास नाका के पास बने अंडर पास में भी पानी भर गया, जिसके कारण लोगों को आने जाने में परेशानी हुई।

यशवंत सागर के तीन गेट खोले

शहर के यशवंत सागर तालाब में पानी क्षमता से अधिक भरने से मंगलवार रात 12 बजे यशवंत सागर बांध के तीन गेट खोले गए। इस मानसून सीजन में पहली बार ऐसा मौका है जब यशवंत सागर के तीनों गेट खोले गए।

 

घरों से पानी निकालते रहे – तेजवर्षा ने सड़कों को लबालब कर दिया। पाटनीपुरा, मालवा मिल, मधुमिलन चौराहे, दवा बाजार, रामबाग, वल्लभ नगर की सड़कों में पानी जमा हो गया। इसके चलते लोगों को दोपहिया वाहन चलाने में काफी परेशानी हुई। कई इलाकों में पेड़ गिरने की घटना भी सामने आई। नार्थ तोड़ा, साउथ तोड़ा, टापू नगर, शिवाजी नगर सहित कई निचली बस्तियों में पानी भर गया। लोग काफी देर तक अपने घरों से पानी निकालने में जुटे रहे। सिरपुर तालाब ओवरफ्लो होने के कारण चंदन नगर क्षेत्र की कई बस्तियों में पानी भर गया।

कई इलाकों में बिजली रही गुल – तेज वर्षा होने से विद्युत व्यवस्था भी प्रभावित रही। कई इलाकों में 25 से 40 मिनट तक बिजली गुल रही। नंदानगर, बजरंग नगर, सत्यम विहार, स्कीम न. 78, गोरी नगर, खातीपुरा सहित कालोनियां शामिल थीं।

महापौर भी उतरे मैदान में

रणजीत हनुमान मंदिर के पीछे नाला ओवरफ्लो होने लगा। इस पर महापौर पुष्यमित्र भार्गव मंगलवार रात 9:45 बजे पहुंचे और जलजमाव की समस्याओं का जायजा लिया। नगर निगम कंट्रोल रूम में अपर आयुक्त अभय राजनगांवकर और मनोज पाठक मौजूद रहे और जोन स्तर पर आ रही जलजमाव की समस्याओं की जानकारी लेकर निराकरण के प्रयास किए।

इंदौर में तेज बारिश के दौरान कान्ह नदी का नजारा

इंदौर में तेज बारिश के बाद जगह-जगह जलजमाव हो गया है। नगर निगम की टीम सुबह से पानी निकासी की व्यवस्था में लगी है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com