Sunday , June 16 2024

जानिए कैसे वायु प्रदूषण बन सकता है आपके बालों और त्वचा के लिए घातक?

बढ़ते प्रदूषण के कारण हमारी सेहत पर काफी नकरात्मक प्रभाव पड़ते हैं। इसका आपकी त्वचा और बालों पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। स्कूल कॉलेज ऑफिस दोस्तों से मिलने शॉपिंग आदि किसी न किसी वजह से रोज बाहर निकलना ही पड़ता है और हमारी त्वचा और बालों को प्रदूषण का सामना करना पड़ता है। जानें कुछ टिप्स जिनसे रख सकते हैं आप अपनी त्वचा और बालों का ख्याल।

वायु प्रदूषण की समस्या बढ़ती ही जा रही है। इस वजह से अस्थमा, लंग कैंसर इस वजह से लोगों को करना पड़ता है कई भयानक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि वायु प्रदूषण का असर आपकी त्वचा और बालों पर भी पड़ सकता है।

प्रदूषण की वजह से बालों का झड़ना, टूटना, डैंड्रफ, ड्राई स्कैल्प की समस्या हो सकती है। साथ ही त्वचा पर इसका प्रभाव एक्ने, डार्क स्पॉट्स, झुर्रियां आदि के रूप में सामने आ सकता है। इसलिए अपने फेफड़ों के साथ-साथ इनका ख्याल रखना भी जरूरी है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनकी मदद से प्रदूषण से होने वाले डैमेज से आप अपने बालों और त्वचा को बचा सकते हैं।

इन टिप्स से बचाएं बालों को प्रदूषण से

बालों को धोएं

रोज बाहर निकलने से प्रदूषण के कारण बालों में गंदगी इकट्ठी हो जाती है। इसकी वजह से बालों में खुजली, डैंड्रफ और फंगल इन्फेक्शन जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए हर दो या तीन दिन पर बालों को शैम्पू से धोएं।

बालों को ढ़क कर रखें

बाहर निकलते समय आपके बालों में प्रदूषण की वजह से कोई गंदगी इकट्ठी न हो, इसलिए बालों को ढंक कर रखें। इसके लिए आप स्कार्फ, दुप्पटे या कैप का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपके बालों में धूल-मिट्टी इकट्ठी नहीं होगी।

हेयर सीरम का इस्तेमाल करें

गीले बालों में सीरम लगाना प्रदूषण से बालों की सुरक्षा में बहुत फायदेमंद होता है। हेयर सीरम आपके बालों को मजबूती के साथ-साथ स्मूद भी बनाता है। इसकी एक-दो बूंद बालों को मजबूत बनाने के लिए काफी है। यह बालों के झड़ने की समस्या को भी कम करता है।

हेयर मास्क

बालों पर प्रदूषण से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए हेयर मास्क एक बेहतरीन विकल्प है। इसके लिए आप केरेटिन ट्रीटमेंट का सहारा भी ले सकते हैं  या घर पर ही हेयर मास्क बनाकर भी लगा सकते हैं। इससे बालों को मजबूती मिलेगी और प्रदूषण से होने वाले डैमेज को भी कम किया जा सकता है।

इस तरह बचाएं त्वचा को प्रदूषण से

क्लींजिंग

बाहर से आने के बाद अपने चेहरे और हाथ-पैरों को अच्छे से धोएं। चेहरे को धोते समय इस बात का ध्यान रखें कि किसी ऐसे फेशवॉस का इस्तेमाल करें, जिससे आपका चेहरा रूखा न हो।

सनस्क्रीन

सनस्क्रीन त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाता है। यह आपकी त्वचा पर प्रदूषण से होने वाले दुष्प्रभावों को भी कम करने में मदद करता है। इसलिए बाहर निकलने से पहले हमेशा सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।

रेटिनॉल और विटामिन-सी

यह दोनों ही प्रदूषण के कारण होने वाली एजिंग की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं। प्रदूषण के कारण झुर्रियां आने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए विटामिन-सी और रेटिनॉल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन दोनो में ही एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं। हालांकि, इस बात का ध्यान रखें कि रेटिनॉल और विटामिन-सी का इस्तेमाल एक साथ न करें।

फेस मास्क

क्ले मास्क त्वचा के पोर्स में इकट्ठी हुई गंदगी को साफ करने के लिए सबसे बेहतर विकल्प है। यह आपकी त्वचा को साफ करता है, जिससे प्रदूषण के कारण आपकी त्वचा को कम नुकसान झेलना पड़ता है। इसके अलावा, आप सैलिसिलिक एसिड का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। साथ ही यह प्रदूषण की वजह से होने वाली एक्ने की समस्या को भी कम करता है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com