Sunday , June 16 2024

हेयर कलर कराने के बाद बालों की देखभाल करनी और भी ज्यादा जरूरी हो जाती, जानिए कैसे करें देखभाल ..

हेयर केयर कराना अब ट्रेंड का हिस्सा बन चुका है। इससे न सिर्फ बालों को स्टालिश लूक मिलता है, बल्कि बाल पहले से ज्यादा शाइनी भी लगते हैं। अक्सर हेयर कलर का असर कितना रहेगा, यह हेयर कलर के टाइप पर निर्भर करता है। किसी हेयर कलर का असर महिनों तक भी रह सकता है, तो कुछ हेयर कलर्स परमानेंट भी होते हैं। लेकिन हेयर कलर के बाद बालों की देखभाल करना सभी हेयर कलर टाइप्स के लिए जरूरी है। हेयर कलर के बाद बालों की देखभाल अवॉइड करने से कई समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए जरूरी है हर छोटी से छोटी चीज पर पहले से ध्यान दिया जाए। इस कंफ्यूजन को दूर करते हुए डर्मेटोलॉजिस्ट, इंडियन स्किन एंड हेयर एक्सपर्ट डॉ चित्रा ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसमें हेयर कलर के बाद बालों की देखभाल करने पर बात की गई है। तो चलिए ओनलीमायहेल्थ के इस लेख के माध्यम से जाने हेयर कलर के बाद बालों की देखभाल कैसे की जाए।

हेयर कलर कराने के बाद बालों को डैमेज होने से कैसे रोके-

सल्फेट फ्री प्रोडक्ट चुनें

सल्फेट युक्त हेयर प्रोडक्ट्स बालों का कलर खराब करने का कारण बन सकते हैं। इसलिए बालों की देखभाल के लिए केवल सल्फेट फ्री प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही ऐसे हेयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें जो खासतौर पर कलर्ड बालों के लिए बनाए गए हो। इससे हेयर कलर लंबे समय तक सेफ रहेगा, साथ ही फ्रीजी बालों की समस्या भी नहीं होगी। 

रोज हेयर वॉश न करें

रोज बाल धोने से आपका हेयर कलर फीका पड़ सकता है। साथ ही यह बालों से नैचुरल ऑयल खत्म करने का कारण भी बन सकता है। इसलिए कलर कराने के बाद रोज बालों को न धोएं। अगर आपको बाल धोने की जरूरत लगती है, तो ड्राई शैंपू का इस्तेमाल करें। 

सूरज की हानिकारक किरणों से बचाएं

सूरज की हानिकारक किरणें बालों को डैमेज करने का कारण बन सकती है। अगर आपने हेयर कलर कराया हुआ है, तो धूप में जानें से पहले बालों में सन्सक्रीन स्प्रे करना न भूलें। बालों पर सन्सक्रीन स्प्रे करने से बालों को डैमेज और फ्रिजी होने से बचाया जा सकता है। 

हेयर स्टाइलिंग टूल्स कम करें इस्तेमाल

हेयर स्टाइलिंग टूल्स का ज्यादा इस्तेमाल आपके बालों को कमजोर करने का कारण बन सकता है। इसलिए कोशिश करें कि आप हेयर कलर के बाद स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल कम ही करें। इसके साथ ही ध्यान रखें कि कोई भी स्टाइलिंग टूल्स इस्तेमाल करने से पहले बालों पर सीरम जरूर लगाएं। 

रेगुलर ट्रिमिंग की बनाए आदत 

समय-समय पर ट्रिमिंग कराते रहने से बालों  की सही ग्रोथ में मदद मिल सकती है। आमतौर पर 6 से 8 सप्ताह के बीच ट्रिमिंग कराना जरूरी होता है। लेकिन इसके साथ ही यह निर्भर करता है कि आपके बालों की ग्रोथ और कंडिशन कैसी है। इसी के साथ समय-समय पर ट्रिमिंग कराते रहने से बालों का कलर और भी ज्यादा खूबसूरत लगता है। 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com