Wednesday , July 24 2024

किसान प्रतिनिधियों एवं चीनी मिल श्रमिकों के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम धामी से की मुलाकात

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य के नेतृत्व में गुरुवार को बाजपुर के किसान प्रतिनिधियों एवं चीनी मिल श्रमिकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री कैंप कार्यालय में सीएम पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की। यशपाल आर्य ने मुख्यमंत्री से बाजपुर चीनी मिल की सहायक इकाई आसवानी को लीज रेंट या पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड पर न देने का अनुरोध किया और इस संबंध में एक ज्ञापन भी सौंपा।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि बाजपुर चीनी मिल की सहायक इकाई असवानी को लीज/किराए/पीपीपी मोड पर सौंपने से पहले किसानों के हितों से जुड़े सभी पहलुओं को ध्यान में रखा जाएगा। इसकी पूरी जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। सीएम ने कहा कि सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। धामी ने आगे कहा कि किसानों के सभी हितों को ध्यान में रखते हुए फैसले लिए जा रहे हैं।

बता दें कि बाजपुर चीनी मिल की इकाई को बीजेपी सरकार द्वारा पीपीपी मोड या 30 साल के लिए लीज पर दिए जाने का विरोध हो रहा है। विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने इसके विरोध में पैदल मार्च निकाला था। यशपाल आर्य ने चेतावनी देते हुए कहा था कि यदि सरकार टेंडर प्रक्रिया को निरस्त नहीं करती है तो राज्य में बड़ा आंदोलन होगा। उन्होंने मंगलवार को एसडीएम कोर्ट तक पैदल मार्च निकाला था। उन्होंने सरकार पर खनन प्रेमी होने का आरोप लगाया था। आर्य ने कहा कि 1958 में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने इस मिल का शिलान्यास किया था। इससे लाखों परिवारों को लाभ पहुंचा है। यह मिल लगातार लाभ की स्थिति में थी। मिल को घाटे में दिखाकर बीजेपी सरकार निजी हाथों में सौंपने की साजिश रच रही है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com