Saturday , June 22 2024

भारत-अमेरिका व्यापार नीति मंच (टीपीएफ) की बैठक हुई स्थगित

यूएस-इंडिया ट्रेड पॉलिसी फोरम (टीपीएफ) को अगले साल की शुरुआत के लिए स्थगित कर दिया गया है, समाचार एजेंसी एएनआई ने इसकी पुष्टि की है। वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और उनके अमेरिकी समकक्ष व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन ताई के बीच व्यापार पर द्विपक्षीय बैठक नवंबर में आगामी अमेरिकी मध्यावधि चुनावों का हवाला देते हुए अगले साल की शुरुआत में पुनर्निर्धारित की गई है।

अमेरिका में आठ नवंबर को होने वाले हैं मध्यावधि चुनाव 

अमेरिका में आठ नवंबर को मध्यावधि चुनाव होने वाले हैं। वहीं भारत के हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव 12 नवंबर को होंगे। इसके अलावा चुनाव आयोग की तरफ से गुजरात चुनावों की तारीखों की घोषणा किए जाने की भी उम्मीद है।

इस बैठक में वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन तेई शामिल होने वाली थीं। इसके पहले सितंबर में गोयल ने लॉस एंजिल्स में व्यापार और निवेश संबंधों को बढ़ावा देने पर तेई के साथ एक द्विपक्षीय बैठक की थी।

पिछले साल नवंबर में हुई थी यह बैठक

टीपीएफ की आखिरी बैठक चार साल के अंतराल के बाद यहां पिछले साल नवंबर में हुई थी। उस बैठक में दोनों पक्षों द्वारा 2022 के अंत से पहले मंत्री स्तर पर टीपीएफ को फिर से संगठित करने का निर्णय लिया गया था।

सूत्रों ने कहा कि व्यापार मंत्री के स्तर पर दोनों देशों के बीच कई मंचों पर चर्चा हो रही है। इस चर्चा में जी-20 और हिंद-प्रशांत आर्थिक समृद्धि प्रारूप (आईपीईएफ) भी शामिल हैं।

भारत सरकार के एक अधिकारी ने एएनआई को बताया कि अमेरिकी ट्रेजरी सचिव जेनेट येलेन और वाणिज्य सचिव जीना रायमोंडो सहित बिडेन प्रशासन के कुछ शीर्ष अधिकारियों के इस साल 8 नवंबर और 13 फरवरी को नई दिल्ली में होने की संभावना है।

अधिकारी आर्थिक साझेदारी को मजबूत करने के तरीकों पर करेंगे चर्चा 

वाणिज्य सचिव जीना रायमोंडो वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल के साथ बातचीत करेंगे और भारत-अमेरिका व्यापार और आर्थिक साझेदारी को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। दूसरी ओर, येलेन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन के साथ मुलाकात करेंगे, इस साल की शुरुआत में पहली इंडो-पैसिफिक इकोनॉमिक फ्रेमवर्क (आईपीईएफ) मंत्रिस्तरीय के लिए लॉस एंजिल्स की अपनी यात्रा के दौरान, गोयल ने घोषणा की कि दोनों देश अगले टीपीएफ का आयोजन करेंगे। टीपीएफ भारत और अमेरिका के बीच व्यापार और निवेश के मुद्दों को हल करने के लिए एक प्रमुख मंच है। इसके पांच फोकस समूह हैं: कृषि, निवेश, नवाचार और रचनात्मकता (बौद्धिक संपदा अधिकार), सेवाएं, और टैरिफ और गैर-टैरिफ बाधाएं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com