Saturday , May 25 2024

व्रत रखने पर आपको कई फायदे मिलते, डायबिटीज पेशेंट इस व्रत के दौरान इन बातों का रखें ख्याल

शारदीय नवरात्रि का त्योहार आज से यानी 26 सितंबर से शुरू हो गया है। नौ दिनों तक चलने वाले इस त्योहार में देवी के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। इस दौरान लोग व्रत भी रखते हैं। आस्था के साथ ही फास्टिंग रखने से शरीर को कई तरह के फायदे मिलते हैं। ये शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालता है और बॉडी को पूरी तरह से डिटॉक्स करता है। हालांकि, डायबिटीज पेशेंट अगर इस व्रत को रख रहे हैं तो उन्हें कुछ बातों का ख्याल रखना होगा। डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट डॉ पूनम दुनेजा कहती हैं कि डायबिटीज वाले लोगों को नवरात्रि के व्रतों का पूरा फायदा उठाने के लिए अपने डायट प्लान को पहले से तैयार करने की जरुरत होती है। ताकी ब्लड शुगर के लेवल को सामान्य रखा जा सके।

नवरात्रि 2022 के लिए डायबिटीज डायट

– अपने शरीर को हाइड्रेट रखें और हर खाने के बाद 15 मिनट तक चलने की कोशिश करें।

– नवरात्रि की थाली में कॉम्पलेक्स कार्ब्स और कम कैलोरी वाले ड्रिंक और दिन भर के खाने की डिटेल रखें ताकी आप ज्यादा हैवी खाने से बचें। 

– अपने खाने में लो जीआई कार्ब्स जैसे कुट्टू की रोटी शामिल करें। सब्जियों को शामिल करें और अपने सभी खावे से पहले सलाद भी शामिल करें ताकि आपके पोस्ट प्रांडियल शुगर के स्तर को नियंत्रित रखा जा सके।

– खाने के ग्लाइसेमिक लोड को कम करने के लिए गुड फैट्स को शामिल करें।

– छाछ, दही, पनीर में कम फैट वाले डेयरी प्रोटीन शामिल करें, ताकि शुगर की किसी भी तरह की क्रेविंग को खत्म किया जा सके और दिन भर आपकी ऊर्जा का लेवल फिर से सही रहे।

– फास्ट के दौरान डायबिटीज वाले लोगों के लिए मट्ठा, सब्जी का रायता, लस्सी, छाछ, मेवा और बीज को डायट में शामिल करें, ये सभी अच्छे प्रोटीन का स्रोत हैं।

– फलों और सब्जियों को शामिल करने से प्लाज्मा कैरोटेनॉयड्स और विटामिन सी का स्तर बेहतर होता है, इससे एंटीऑक्सीडेंट और फाइटो कंपाउंड मिलते हैं। सलाद, फ्रूट चाट, वेजिटेबल स्मूदी, वेजिटेबल सूप ट्राई करें और रेडीमेड सूप मिक्स, फ्रूट जूस और शुगर से बनी चीजों से बचें।

इसके अलावा इन बातों का रखें ख्याल 

– लंबे समय तक भूखे न रहें
– ज्यादा चाय पीने से बचें
– दवाओं का रखें खास ख्याल 
– तला-भुना खाने से बचें
– प्री फास्टिंग मील का रखें ख्याल 
– डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com