Sunday , July 21 2024

इस ट्रेन को एक और नई कामयाबी हासिल हुई

भारतीय रेलवे  के लिए बड़ी खुशखबरी है. वंदे भारत एक्सप्रेस को लेकर एक और अच्छी खबर सामने आ रही है. इस ट्रेन को एक और नई कामयाबी हासिल हुई है. वंदे भारत एक्सप्रेस ने परीक्षण के दौरान 180 किमी प्रति घंटे की गति सीमा को पार कर लिया है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस बारे में जानकारी दी है. अश्विनी वैष्णव ने ट्विटर पर वीडियो भी शेयर किया है. 

ट्वीट कर दी जानकारी
केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ट्विटर पर लिखा है कि वंदे भारत-2 की स्पीड का ट्रायल चल रहा है, जिसमें ट्रेन को खास कामयाबी मिली है. बता दें ये ट्रायल कोटा-नागदा सेक्शन के बीच में चल रहा है और ट्रेन ने 120/130/150 और 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार को पार कर लिया है. 

शताब्दी की ले सकती है जगह
आपको बता दें वंदे भारत एक्सप्रेस वर्तमान शताब्दी एक्सप्रेस की जगह ले सकती है. इस ट्रेन की रफ्तार में तेजी देखने को मिलेगी. इस समय ट्रेन-18 करीब 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में सक्षम है. 

चल रहा है ट्रायल
रेलवे की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक, इस ट्रेन को काफी किफायती बनाया गया है, जिसके लिए इसका काफी हाई लेवल पर ट्रायल किया जा रहा है. कुछ दिन पहले रेलवे मंत्री को सोशल मीडिया पर कई तरह से लोगों ने धन्यवाद दिया है. 

अधिकतम 180 किमी की पकड़ी स्पीड
ट्रेन की स्पीड के ट्रायल के पहले चरण में 110 किमी का सफल ट्रायल होने के बाद में कोटा-नागदा सेक्शन पर दूसरे चरण का ट्रायल रन शुरू हुआ था, जिसमें ट्रेन ने अधिकतम 180 किमी की अधिकतम गति पकड़ी है. 

2023 से 75 ट्रेनें दौड़ेंगी 
रेलवे ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री मोदी की घोषणा के अनुरूप 15 अगस्त, 2023 तक वंदे भारत की 75 ट्रेनें पटरियों पर दौड़ना शुरू कर देंगी. आईसीएफ की हर महीने छह से सात वंदे भारत रैक (ट्रेन) की उत्पादन क्षमता है और इस संख्या को बढ़ाकर 10 करने का प्रयास किया जा रहा है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com