Wednesday , February 21 2024

हाईवे पर प्रेमिका का कत्ल: एक दिन पहले हुई दोनों की बात…

कानपुर के बिल्हौर कोतवाली क्षेत्र में चलती बाइक में एक सिरफिरे युवक ने गांव की ही युवती पर चाकू और कुल्हाड़ी से हमला कर निर्मम हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने खुद भी जान दे दी। इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह ने बताया कि सीडीआर से पता चला कि शनिवार रात दोनों के बीच बात हुई थी। दोनों में क्या बातचीत हुई? इसकी जांच की जा रही है।

कानपुर में वारदात को अंजाम देने से एक दिन पहले दोनों सन्नो और उसके प्रेमी रमेश की फोन पर बातचीत हुई थी। इसके दूसरे दिन रमेश ने सन्नो को सरेराह रोकर पहले कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार किए। बाद में चाकू से गोदकर उसकी हत्या कर दी। सन्नो के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में 40 से अधिक गहरे घाव मिले हैं।

इससे साफ है कि रमेश सन्नो को किसी भी सूरत में जिंदा नहीं छोड़ना चाहता था। सन्नो की शादी की सूचना पर प्रेमी रमेश अपना आपा खो बैठा था। रविवार को जीटी रोड पर सन्नो को देखते ही उसने ताबाड़तोड़ वार कर दिए।

सन्नो के चेहरे से लेकर गर्दन के बीच में कुल्हाड़ी और चाकू के 11 वार मिले। जब सन्नो मोटरसाइकिल से गिर पड़ी तब भी रमेश उसपर चाकू से तबतक हमला करता रहा, जबतक उसकी मौत नहीं हो गई। शरीर के बाकी हिस्सों में चाकू के 29 घाव मिले है।

मौत का कारण हेमरेज, शॉक और अत्याधिक खून बह जाना बताया गया। वहीं, रमेश की मौत का कारण स्पष्ट न होने पर बिसरा सुरक्षित रखा गया है। इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह ने बताया कि सीडीआर से पता चला कि शनिवार रात दोनों के बीच बात हुई थी। दोनों में क्या बातचीत हुई? इसकी जांच की जा रही है। सामने आने वाले तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।
डॉक्टर बोले पुलिस ने पंचनामे में नहीं लिखीं चोटें
सन्नो का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने पुलिस पर सवाल उठाया कि शरीर पर जितनी चोटें हैं, उतनी पंचनामे में नहीं दर्शाई गईं। इसके बाद डॉक्टर ने संबंधित कार्रवाई करने वाले दरोगा को पोस्टमार्टम हाउस बुला लिया। कागजी कार्रवाई ठीक करने के बाद पोस्टमार्टम शुरू हो सका।

तनातनी, पुलिस सुरक्षा में हुआ शवों का अंतिम संस्कार
जीटी रोड पर राढ़ा गांव के सामने प्रेमिका की कुल्हाड़ी व चाकू से वार कर हत्या करने के बाद खुद भी जहर खाकर जान देने के मामले में सोमवार को दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के बाद गदनपुर आहार गांव लाया गया। दोनों परिवारों के बीच तनातनी का माहौल होने के चलते पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच उनके शवों का घाट पर शवों को दफनाकर अंतिम संस्कार किया गया।

गांव निवासी सन्नो (22) की रविवार की सुबह गांव के ही सुरेश कुमार ने कुल्हाड़ी और चाकू मारकर हत्या कर दी थी। वारदात को अंजाम देने के बाद सुरेश ने भी जंगल में जहर निगलकर जान दे दी थी। पुलिस ने दोनों शवों को रविवार को पोस्टमार्टम के लिए भेजा, लेकिन जांच पड़ताल और पंचायतनामा में खामियों के कारण सोमवार दोपहर के बाद पोस्टमार्टम हो सका। शाम करीब पांच बजे पहले युवती का शव पहुंचा, जिसे कटरी में दफनाया गया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com