Wednesday , July 24 2024

तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने शारीरिक रूप से विकलांग पेंशन में एक हजार रुपये की वृद्धि की घोषणा की

तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने 9 जून को शारीरिक रूप से विकलांग पेंशन में वृद्धि की घोषणा की है। शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के पेंशन में 1000 रुपये की वृद्धि की गई है। मनचेरियल जनसभा में सीएम केसीआर ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि पेंशन में वृद्धि के साथ ही अब शारीरिक रूप से अक्षम व्यक्तियों को प्रति माह 4116 रुपये दिए जाएंगे।

मनचेरियल में एक जनसभा को किया संबोधित

मुख्यमंत्री केसीआर 9 जून को मनचेरियल जिला मुख्यालय में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बीआरएस सरकार कल्याण के लिए है, जिसका उद्देश्य राज्य में सभी खनिज भंडारों में सिंगरेनी कोयला खनन गतिविधि का विस्तार करना है।

सिंगरेनी कोयला खदानों के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कांग्रेस और भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि विपक्षी पार्टियां अपने निहित स्वार्थों के लिए कोलियरियों को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि एक तरफ कांग्रेस ने केंद्र को कंपनी का 49 प्रतिशत हिस्सा बेच दिया है, वहीं भाजपा निजीकरण मोड पर विचार करके इसे और गिराने की कोशिश कर रही है।

कोयला खनन में हो रही वृद्धि

सीएम ने कोयला खनन में हो रही वृद्धि को लेकर जानकारी दी कि एससीसीएल के तहत खनन इकाई लाभ के साथ आगे बढ़ रही है और कंपनी को इस वर्ष 2164 करोड़ का मुनाफा हुआ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 300 अरब टन कोयले का उत्पादन ताप बिजली क्षेत्र को बिजली आपूर्ति के मोर्चे पर चुनौती का सामना करने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि बीआरएस का लक्ष्य देश में बिजली आपूर्ति प्रणाली को एक सकारात्मक बिंदु बनाना है और हम थर्मल पावर को देश की जरूरतों को पूरा करने के इच्छुक हैं।

धरणी पोर्टल से किसानों को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री ने लगातार अपनी तीसरी बैठक में धरणी पोर्टल का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि इससे किसानं को काफी लाभ मिलता है। धरणी से पहले ही 99 प्रतिशत भूमि रिकॉर्ड दर्ज कर लिया है और यह किसान के लिए आवश्यक लाभांश प्राप्त करने में मददगार साबित हो रहा है।

धरणी पोर्टल को बंगाल की खाड़ी में डंप करने के बारे में कांग्रेस नेताओं की विवादास्पद टिप्पणियों पर मुख्यमंत्री ने जनता से आह्वान किया कि अगर वे इस तरह के बयान देना जारी रखते हैं तो ऐसे नेताओं को भी बंगाल की खाड़ी में फेंक देना चाहिए।

विपक्षी पार्टियों के झूठे वादों का शिकार न हों जनता- सीएम

जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने अपने भाषण के दौरान दलित बंधु, बीसी कल्याण कार्यक्रम, कारीगरों के लिए बीसी कल्याण कार्यक्रम, भेड़ पालन योजना दूसरे चरण जैसे कल्याण कार्यक्रमों के बारे में विस्तार से बात की। साथ ही लोगों को आगाह किया कि वे पार्टियों के झूठे वादों और झूठे वादों का शिकार न हों। सार्वजनिक बैठक में मंत्री वेमुला प्रशांत रेड्डी, इंद्रकरन रेड्डी, कोप्पुला ईश्वर, गंगुला कमलाकर, सचेतक बालका सुमन, सांसद संतोष राव, एमएलसी, विधायक दिवाकर राव और अन्य राज्य स्तरीय निगम अध्यक्ष भी शामिल हुए।

इन योजनाओं का किया उद्घाटन

इससे पहले मुख्यमंत्री ने मनचेरियल में एकीकृत समाहरणालय परिसर का उद्घाटन किया। उन्होंने विस्तार से बताया कि सरकार किस प्रकार कर्मचारी हितैषी थी और सरकारी सेवाओं में योजनाओं और सेवा मामलों को कैसे सुव्यवस्थित किया गया।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने दूसरे चरण की भेड़ पालन योजना और कारीगर परिवारों को एक लाख रुपये की सहायता राशि का औपचारिक उद्घाटन किया। उन्होंने ताड़ के तेल उद्योग के लिए आधारशिला रखी और बीआरएस जिला कार्यालय का भी उद्घाटन किया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com