Tuesday , April 16 2024

किडनी की बीमारी के कई शारीरिक लक्षण हैं, ऐसे में यहां देखें परेशानियों के लक्षण-

किडनी की बीमारी के कई शारीरिक लक्षण होते हैं, लेकिन कभी-कभी लोग उन्हें अनदेखा कर देते हैं।इसलिए, व्यक्ति को इन लक्षणों के प्रति सतर्क रहना चाहिए और बिना किसी देरी के डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। दिल की बीमारी की तरह ही किडनी की सेहत पर भी उतना ही ध्यान देने की जरूरत होती है। यहां कुछ लक्षण हैं जो किडनी की परेशानी से जुड़े हैं, देखिए-

एड़ी, पैरों या तलवों में सूजन

किडनी की कार्यक्षमता कम होने से सोडियम प्रतिधारण होता है जिससे आपके पैरों, चेहरे और एड़ी में सूजन हो सकती है।

पेरिओरिबिटल एडिमा

यह कोशिकाओं में तरल पदार्थ के निर्माण के कारण आंखों के आसपास सूजन है। कई अन्य कारणों के अलावा, यह किडनी की बीमारी के लक्षण के रूप में भी विकसित हो सकता है। आंखों के आसपास सूजन इस बात का संकेत हो सकती है कि आपकी किडनी शरीर में रखने के बजाय मूत्र में बड़ी मात्रा में प्रोटीन का रिसाव कर रही हैं।

कमजोरी, थकान, भूख में कमी 

आप सामान्य दिनों की तुलना में ज्यादा थकान महसूस कर सकते हैं। यह काफी हद तक ब्लड में टॉक्सिन और अशुद्धियों के निर्माण के कारण होता है, जो किडनी के खराब काम के परिणामस्वरूप होता है।

हीमोग्लोबिन का स्तर गिरना

किडनी की बीमारी की सामान्य परेशानियों में से एक एनीमिया भी है। इससे कमजोरी और थकान हो सकती है।

यूरिन की कमी

किडनी की परेशानी होने पर यूरिन उत्पादन कम हो सकता है या आपको ज्यादा बार पेशाब करने की जरूरत महसूस हो सकती है, खासकर रात में। यह एक चेतावनी संकेत हो सकता है क्योंकि यह इंगित करता है कि किडनी के फिल्टर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। कभी-कभी यह पुरुषों में कुछ मूत्र संक्रमण या बढ़े हुए प्रोस्टेट का संकेत भी हो सकता है।

यूरिन में झाग या खून आना

पेशाब में ज्यादा झाग आना प्रोटीन होने की ओर इशारा करता है। कभी-कभी जब किडनी के फिल्टर खराब हो जाते हैं, तो ब्लड कोशिकाएं यूरिन में रिसने लगती हैं। इसके साथ बुखार या ठंड लगने के साथ पेशाब से जुड़ा मवाद गंभीर हो सकता है।

सूखी और खुजली वाली त्वचा 

हेल्दी किडनी आपके शरीर से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थ को हटाते हैं, और रेड ब्लड सेल्स को बनाने में मदद करते हैं जो हड्डियों को मजबूत रखने के अलावा आपके ब्लड में मिनरल की सही मात्रा को बनाए रखते हैं। सूखी और खुजली वाली स्किन किडनी की बीमारी का संकेत हो सकती है।

पीठ दर्द या पेट के निचले हिस्से में दर्द 

पीठ, बगल या पसलियों के नीचे तेज दर्द किडनी स्टोन का शुरुआती लक्षण हो सकता है। इसी तरह, पेट के निचले हिस्से में दर्द पेशाब के संक्रमण या मूत्रवाहिनी में पथरी से जुड़ा हो सकता है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com