Thursday , June 13 2024

झारखंड: इन बड़े शहरों में रहने वाले लोग तोड़ते है सबसे ज्यादा ट्रैफिक रूल, पढ़े पूरी ख़बर

ट्रैफिक नियमों का पालन करने के लिए लगातार चलाए जा रहे जागरुकता अभियान के बावजूद झारखंड के बड़े शहरों में रहने वाले लोग ही लापरवाही बरत रहे हैं। राज्य के बड़े शहर रांची, धनबाद, जमशेदपुर और बोकारो के बीच तुलना करें तो वाहन चलाने के मामले में राजधानी रांची के लोग सबसे ज्यादा लापरवाह हैं।

बोकारो और धनबाद के लोग भी बेपरवाह
वाहन चलाने में लापरवाही के मामले में दूसरे नंबर पर जमशेदपुर और अंतिम नंबर पर धनबाद है। बोकारो के लोग भी धनबाद से ज्यादा बेपरवाह हैं। इन चार शहरों से अलग राज्य के छोटे शहर के लोग ट्रैफिक नियमों के पालन में अव्वल हैं। वाहन चलाने में लापरवाही और नियम तोड़ने पर इस साल सितंबर माह तक राज्य में करीब 20 हजार ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड किए गए हैं। इनमें सबसे अधिक रांची और सबसे कम पाकुड़ के हैं। रांची के 5254 और जामताड़ा के 185 लोगों के ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड किए गए हैं।

डीटीओ करते हैं ट्रैफिक नियमों की जांच
पुलिस की अनुशंसा पर ज्यादा लाइसेंस रद्द किए ट्रैफिक नियमों की जांच जिला परिवहन पदाधिकारी और ट्रैफिक पुलिस करती है। इस वर्ष जनवरी से सितंबर तक जिला परिवहन पदाधिकारी ने 9479 चालकों के लाइसेंस पुलिस की अनुशंसा पर सस्पेंड किया है। परिवहन विभाग के अनुसार दिसंबर तक करीब तीन हजार लाइसेंस और सस्पेंड हो सकते हैं। पूरे राज्य में रफ ड्राइविंग, ओवरलोडिंग, ट्रिपल राइडिंग, शराब पीकर वाहन चलाने के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और बार-बार गलतियां करने पर ही लाइसेंस सस्पेंड किए जा रहे हैं।

नियम तोड़ने वालों पर कार्रवाई की तैयारी
नियम तोड़ने वालों के डीएल डीटीओ के पास सस्पेंड करने के लिए भेजे जाते हैं। इसके बाद तीन महीने के लिए लाइसेंस सस्पेंड हो जाता है। यदि फिर भी गलती करते पाए जाते हैं तो स्थायी रूप से लाइसेंस रद्द करने का प्रावधान है। जिला परिवहन पदाधिकारी प्रवीण कुमार ने कहा कि बार-बार जो गलती दुहरा रहे हैं, उनपर कठोर कार्रवाई की जाएगी। तीन महीने के लिए डीएल सस्पेंड किया जा रहा है। फर्जी डीएल बनाने वालों को भी चिन्हित किया जा रहा है, उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com