Monday , July 22 2024

पूजा-पाठ के बाद कुबेर देव के इन 3 मंत्रों का करें जाप, दूर होंगी आर्थिक समस्याएं

 हिंदू धर्म शास्त्रों में बताया गया है कि किसी भी पूजा-पाठ के बाद अगर कुबेर देव के इन 3 मंत्रों का जाप कर लिया जाए, तो व्यक्ति की सभी आर्थिक समस्याएं दूर हो जाती हैं. इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का भी वास होता है. 

धार्मिक ग्रंथों में मां लक्ष्मी और कुबेर देव को धन के देवी-देवता की उपाधि दी गई है. किसी भी तरह की आर्थिक समस्या और दरिद्रता संबंधी परेशानी के लिए मां लक्ष्मी और कुबरे देव की पूजा का विधान है. आज हम कुबेर देव के ऐसे तीन मंत्रों के बारे में जानेंगे, जिनके जाप से व्यक्ति की दरिद्रता कोसो दूर चली जाती है. घर में धन की वृद्धि होती है. 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आर्थिक तंगी से परेशान लोगों को कुबरे देव को प्रसन्न करने की सलाह दी जाती है. पूजा-पाठ के बाद कुबरे देव के इन 3 मंत्रों का जाप कर लिया जाए, तो व्यक्ति की दरिद्रता तो दूर होती ही है. साथ  ही, घर में सकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है. आइए जानें कुबरे देव के इन 3 मंत्रों के बारे में.

अष्टलक्ष्मी कुबेर मंत्र

ॐ ह्रीं श्रीं क्रीं श्रीं कुबेराय अष्ट-लक्ष्मी मम गृहे धनं पुरय पुरय नमः॥

यूं करें इस मंत्र जाप 

ये मां लक्ष्मी और कुबेर देव की कृपा पाने का मंत्र है. इस मंत्र का सच्चे मन से जाप करने से व्यक्ति की सभी समस्याएं छूमंतर हो जाते हैं. साथ ही, पद, प्रतिष्ठा और सौभाग्य की प्राप्ति होती है. मान्यता है कि शुक्रवार की रात अगर इस मंत्र का जाप कर लिया जाए, तो बहुत जल्द ही प्रभाव देखने को मिलता है. 

कुबेर देव का अमोघ मंत्र

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धनधान्याधिपतये
धनधान्यसमृद्धिं मे देहि दापय स्वाहा॥

इस मंत्र के जाप की विधि

अगर आप कुबेर देव के अमोघ मंत्र का जाप कर रहे हैं, तो दक्षिण दिशा में मुख करके 108 बार इस मंत्र का जाप करना चाहिए. जाप करते समय मां लक्ष्मी की प्रिय कौड़ियों को अपने पास रख लें. ऐसा माना जाता है कि बेल  के पेड़ के नीचे अगर 1 लाख बार जप कर लिया जाए, तो आर्थिक परेशानियां दूर होती हैं. अगर इस मंत्र का जाप तीन महीने तक लगातार किया जाए, तो जीवन में व्यक्ति को धन की कमी का सामना नहीं करना पड़ता.

धन प्राप्ति हेतु कुबेर मंत्र

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेश्वराय नमः॥

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com