Friday , January 27 2023

गदरपुर में पार्षद के घर चोरी का पुलिस ने किया पर्दाफाश, बरामद की जेवरात व डेढ़ लाख की नकदी

गदरपुर में पार्षद के घर हुई लाखों के जेवरात और नकदी चोरी का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। चोरी पार्षद के किराएदार समेत दो अन्य परिचितों ने की थी। इस मामले में पुलिस ने किराएदार समेत तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से चोरी के 66 तोला सोने के जेवरात, एक किलो चांदी के जेवरात और करीब डेढ़ लाख की नकदी बरामद की है। बाद में पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

एसएसपी ने किया मामले का पर्दाफाश

एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि पार्षद पति बृजेश सिंह पुत्र वीरेंद्र सिंह गुरुवार को परिवार के साथ ससुराल बुलंदशहर रक्षा बंधन के लिए गया हुआ था। इसके बाद शुक्रवार को वह वापस परिवार के साथ अपने घर पहुंचा। जहां घर में रखी 66 तोला सोने के जेवरात, एक किलो चांदी के जेवरात और करीब डेढ़ लाख रुपये चोरी हो चुके थे।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी थी। इसके लिए आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालने के साथ ही मुखबिर भी सक्रिय कर दिए गए थे।

सीसीटीवी से लगा सुराग 

एसएसपी ने बताया कि फुटेज में कुछ संदिग्ध कैद मिले, जिस पर उनकी पहचान की गई। जिसके बाद मुखबिर की सूचना पर गदरपुर वार्ड 11 से तीन युवकों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम वार्ड नंबर 11 निवासी मुस्तकीम पुत्र असगर, जाहिद पुत्र नजर, शुभम पुत्र भगवान दास बताया।

इस दौरान उन्होंने चोरी की बात कबूल की, बाद में पुलिस ने उनकी निशानदेही पर चोरी किए गए 66 तोला सोने के जेवरात, एक किलो चांदी के जेवरात और करीब डेढ़ लाख की नकदी बरामद की। 

किराएदार ने रची थी साजिश

गिरफ्तार चोर मुस्तकीम पार्षद पति बृजेश सिंह का किराएदार है और जाहिद तथा शुभम भी उनके परिचित है। बृजेश के परिवार के संबंध में उन्हें पूरी जानकारी थी। यही नहीं वह ससुराल जा रहा है, इसकी जानकारी भी बृजेश ने उन्हें दी थी। जिसके बाद तीनों ने उसके घर में चोरी की योजना बनाई। बाद में पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

पुलिस टीम को 10 हजार का इनाम

एसएसपी ने चोरी का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को 10 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। टीम में सीओ बाजपुर वंदना वर्मा, एसओ गदरपुर राजेश पांडेय, एसआइ ओमप्रकाश, एसआइ गौरव जोशी, एसआइ गिरीश चंद्र पंत, कांस्टेबल कैलाश चंद्र, इमरान अंसारी, विमल टम्टा, मोहन बोरा, जानकी बुढ़लाकोटी, रवि शामिल है।

गौरव जोशी होंगे पुलिस आफ द मंथ से सम्मानित

चोरी के पर्दाफाश करने में एसआइ गौरव जोशी की अहम भूमिका रही है। चोरी की सूचना मिलने के बाद वह तत्काल जांच में जुट गए थे। जिसके बाद पुलिस ने छह घंटे के भीतर ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया था। बताया कि एसआइ गौरव जोशी को माह अगस्त का पुलिस आफ द मंथ से सम्मानित किया जाएगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com