Thursday , April 18 2024

Indian Railways ने तीन दिनों में रद की 63 ट्रेनें, 11 हजार 382 यात्रियों ने वापस किए टिकट, चेक करें पूरी लिस्‍ट

Indian Railways: रेलवे से सफर करने वाले यात्रियों की मुसीबतें कम होने का नाम नही ले रही है। इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि तीन दिनों में 63 ट्रेनों के पहिए थमे हैं। ट्रेनों के रद होने से लोगों को अपनी यात्रा रद करनी पड़ रही है। जून में 100 से ज्यादा ट्रेनें रद होने से 11 हजार 382 यात्रियों ने टिकट वापस किए हैं। वहीं, रेलवे ने 68 लाख 57 हजार रुपये यात्रियों को वापस किए हैं।

रेलवे के अनुसार, यह आंकड़ा सिर्फ आरक्षण केंद्रों का है। आनलाइन टिकट और वापसी को जोड़ दिया जाए तो राशि करोडों में पहुंच जाएगी। लोकल ट्रेनें रद होने से भिलाई, दुर्ग, राजनांदगांव और भाटापारा से सफर करने वाले यात्रियों को काफी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार को 18 ट्रेनों को सात से 20 जुलाई तक रद करने का निर्णय लिया गया था। वहीं, 25 से 9 जुलाई तक के लिए 21 एक्सप्रेस और 12 मेमू ट्रेनों को गत दिनों रद किया गया था, जिसे बुधवार को एक सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया गया।

बुढ़ार-शहडोल सेक्शन के सिंहपुर में 21 से 23 जुलाई तक तीसरी लाइन के विद्युतीकरण का काम किया जाएगा, जिसके कारण रेलवे ने गुरुवार को 12 ट्रेनें रद करने का निर्णय लिया। गौरतलब है कि मुंबई-हावड़ा मार्ग पर स्थित रायपुर से रोज करीब 120 ट्रेनें गुजरती हैं। कोरोना संक्रमण के पहले यहां से रोज 70 हजार यात्री सफर करते थे। कोरोना के बाद यात्रियों की संख्या घटकर 20 हजार हो गई थी। वर्तमान में 50 हजार यात्री रोजाना आना-जाना करते हैं।

यात्री तीन माह पहले करा लेते हैं टिकट

अधिकतर यात्री सफर करने से तीन माह पहले रिजर्वेशन करा लेते हैं, क्योंकि विलंब होने पर कंफर्म टिकट के लिए मशक्कत करनी पड़ती है। अचानक ट्रेनों को रद करने से हजारों यात्रियों को कंफर्म टिकट कैंसिल कराना पड़ रहा है।

15 जुलाई को जाना था दिल्ली

पुरानी बस्ती निवासी मयंक कुमार ने बताया कि परिवार के साथ 15 जुलाई को दिल्ली जाना था। उन्होंने करीब दो माह पहले टिकट बुक करा लिया था। ट्रेन रद होने की वजह से टिकट वापस कराना पड़ा। ऐसे ही अमलीडीह निवासी राजेश जायसवाल ने बताया कि उन्हें 14 जुलाई को बलसाड जाना था। कंफर्म टिकट मिल गया था लेकिन ट्रेन रद होने से दिक्कत आ गई है।

ऐसे खाते में आता है राशि

यदि आनलाइन टिकट की बुकिंग की है तो रिफंड के लिए ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है। नियमानुसार ट्रेन रद होने पर यात्री के खाते में रिफंड आ जाता है, लेकिन काउंटर से टिकट की बुकिंग कराई है तो रिफंड के लिए नजदीकी काउंटर पर जाकर फार्म भरना पड़ता है। काउंटर से ही राशि रिफंड होती है। इसके लिए काउंटर पर लाइन लगानी पड़ती है।

यह 12 ट्रेनें हुई रद

बिलासपुर-चिरिमिरी एक्सप्रेस: 21 से 23 जुलाई तक

चिरिमिरी- बिलासपुर एक्सप्रेस : 22 से 24 तक

उदयपुर-शालीमार एक्सप्रेस : 23 को

शालीमार-उदयपुर एक्सप्रेस : 24 जुलाई को

वलसाड-पुरी एक्सप्रेस : 21 जुलाई को

पुरी-वलसाड एक्सप्रेस : 24 को

दुर्ग-निजामुद्दीन एक्सप्रेस : 21 और 23 को

निजामुद्दीन-दुर्ग एक्सप्रेस : 22 और 24 को

दुर्ग-नौतनवा एक्सप्रेस : 22 को

नौतनवा-दुर्ग एक्सप्रेस: 24 को

बरौनी-गोंदिया एक्सप्रेस : 21 से 23 तक

गोंदिया-बरौनी एक्सप्रेस : 22 से 24 जुलाई तक

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com